Samsung Latest Smartphones and LED Tv-Hindi

Updated By: Help-Line
सैमसंग समूह(Samsung Group) पूर्व एशिया में स्थित दक्षिण कोरिया का ऐसा औधोगिक समूह है जिसके वर्चस्व का दक्षिण कोरिया के आर्थिक विकास, राजनीति, मीडिया और संस्कृति पर एक शक्तिशाली प्रभाव है। इस समूह की कम्पनियां दक्षिण कोरिया के कुल निर्यात का बीस प्रतिशत हिस्सा बनाती हैं। सैमसंग समूह के अधीन सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के अलावा सैमसंग सी एंड टी, सैमसंग हैवी इंडस्ट्रीज, सैमसंग इलेक्ट्रो-मैकेनिक्स, सैमसंग एसडीएस, सैमसंग लाइफ इंश्योरेंस, सैमसंग फायर तथा मरीऩ, सैमसंग सिक्योरिटीज इत्यादि कंपनियां विश्व के कई देशों में उत्पादन व सेवा व्यवसाय के क्षेत्रों में कार्य कर रही है। सैमसंग के स्थापना स्वर्गीय ली बुंग चल द्वारा एक व्यपारिक कंपनी के रूप में 1938 में की गई थी। सन 1969 में सैमसंग ऩे बाजार में सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक (Samsung Electronics) को उतारा, जो मुख्य रूप से मोबाईल-फ़ोन, टीवी एवं ऑडिओ, घरेलु उपकरण, सेमीकंडक्टर और कम्प्यूटर एवं कम्प्यूटर से संबंधित स्पेयर-पार्ट्स इत्यादि जैसे उत्पादों को विकसित कर उनका निर्माण और व्यापार करती है।
सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक ने 1969 में स्थापित होने के बाद कई उपलब्धियां प्राप्त की। सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स इंडस्ट्रीज कंपनी लिमिटेड (Samsung Electronics Industry Co Ltd) और सैमसंग-सैनीयो इलेक्ट्रॉनिक्स (Samsung-Sanyo Electronics) की स्थापना 1969 को हुई। मार्च 1977 में सैमसंग-सैनीयो इलेक्ट्रॉनिक्स का सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के साथ विलय हो गया। 1970 में सैमसंग-सान्यो द्वारा ब्लैक एंड वाइट टीवी (मॉडल: पी-3202) का उत्पादन शुरू किया गया और 1971 में ब्लैक एंड वाइट टीवी का पनामा में निर्यात शुरू कर दिया। 1972 में घरेलु बाजार के लिए ब्लैक एंड वाइट टीवी का उत्पादन शुरू किया गया। 1974 में वॉशिंग मशीन और रेफ्रिजरेटर का उत्पादन शुरू कर दिया गया और 1975 में दुनिया का तीसरा 'क्विक-स्टार्ट' टीवी सिस्टम (इकोनो टीवी) लॉन्च किया गया। 1976 में दस लाख ब्लैक एंड वाइट टीवी का उत्पादन का आंकड़ा पर कर लिया। 1977 में कोरिया सेमीकंडक्टर कंपनी का अधिग्रहण किया गया और रंगीन टीवी का व्यापक रूप से उत्पादन कर निर्यात आरंभ कर दिया। 1978 यूनाइटेड स्टेट्स में पहला ओवरसीज कार्यालय खोला गया और चालीस लाख ब्लैक एंड टीवी के उत्पादन का आंकड़ा छुआ जिसमें से अधिकतर का विदशों में निर्यात किया गया। 1979 मिक्रोवेब ओवन का व्यापक उत्पादन किया गया और वीएचएस वीसीआर को विकसित किया और कोरिया इलेक्ट्रॉनिक्स इनफार्मेशन कंपनी (Korea Electronics Information Co.) का अधिग्रहण किया गया। 1983 में पर्सनल कम्प्यूटर्स का उत्पादन शुरू किया। इसी तरह 1984 से 2012 तक सैमसंग ने कई व्यापार और अनुसंधान के क्षेत्र में कई कार्य किये और 2013 में ग्लैक्सी एस 4 - Galaxy S4 स्मार्ट फ़ोन विश्व बाजार में लांच किया। सैमसंग एप्पल के लिए उसके एक उत्पाद आई-पैड - iPad के रैटिना-डिस्प्ले का उत्पादन भी करता है।

इस समय सैमसंग के विश्व की 79 देशों में 308,745 कर्मचारी कार्य कर रहे है। सैमसंग के सात डिज़ाइन और चौंतीस आर एंड डी सेंटर है। सैमसंग ने समाजिक उत्तरदायित्व को समझते हुए स्वस्थ्य सेवा, शिक्षा, और सामाजिक सेवा के क्षेत्रों में भी अपना योगदान दिया है और पर्यावरण स्थिरता के लिए सन 2009 से 2016 में उत्पादों के प्रयोग के समय एक सौ अठासी मिलियन टन ग्रीन हाउस गैस की कमी की है, 2.64 मिलियन टन भू-मंडलीय बेकार उत्पादों का निपटान किया और तीस हजार आठ सौ उन्चास टन रीसायकल प्लास्टिक का प्रयोग किया है


कृपया प्रसार करें:

पिछला लेख
अगला लेख
-

अधिक पढ़ें गए

IPC 324 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 324 - Voluntarily causing hurt by dangerous weapons or means

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 324 खतरनाक आयुधों या साधनों द्वारा स्वेच्छया उपहति कारित करना -- उस दशा के सिवाय, जिसके लिए धारा 334 में उपबंध ...

पूरा पढ़ें

IPC 325 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 325 - Punishment for voluntarily causing grievous hurt

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 325 स्वेच्छया घोर उपहति कारित करने के लिए दण्ड -- उस दशा के सिवाय, जिसके लिए धारा 335 में उपबंध है, जो कोई स्वे...

पूरा पढ़ें

IPC 323 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 323 - Punishment for voluntarily causing hurt

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 323 स्वेच्छया उपहति कारित करने के लिए दण्ड --- उस दशा के सिवाय, जिसके लिए धारा 334 में उपबंध है, जो कोई स्वेच्छ...

पूरा पढ़ें

IPC 451 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 451

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 451 कारावास से दंडनीय अपराध को करने के लिए गृह-अतिचार -- जो कोई कारावास से दंडनीय कोई अपराध करने के लिए गॄह-अतिचा...

पूरा पढ़ें

IPC 342 in HIndi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 342 - Punishment for wrongful confinement

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 342 (Dhara 342) सदोष परिरोध के लिए दण्ड ---   जो कोई किसी व्यक्ति का सदोष परिरोध करेगा, वह दोनों में से किसी भांत...

पूरा पढ़ें