CrPC 445 in Hindi - दण्ड प्रक्रिया संहिता धारा - 445

Updated By: Help-Line

अध्याय 33 - दण्ड प्रक्रिया संहिता धारा - 445 - मुचलके के बजाय निक्षेप --

जब किसी व्यक्ति से किसी न्यायालय या अधिकारी द्वारा प्रतिभूओं सहित या रहित बंधपत्र निष्पादित करने की अपेक्षा की जाती है तब वह न्यायालय या अधिकारी, उस दशा में जब वह बंधपत्र सदाचार के लिए नहीं है उसे ऐसे बंधपत्र के निष्पादन के बदले में इतनी धनराशि या इतनी रकम के सरकारी वचन पत्र, जितनी वह न्यायालय या अधिकारी नियत करें, निक्षिप्त करने की अनुज्ञा दे सकता है।
___________


Chapter XXXIII - CrPC Section 445 - Deposit instead of recognizance.

When any person is required by any Court or officer to execute a bond with or without sureties, such Court or officer may, except in the case of a bond for good behaviour, permit him to deposit a sum of money or Government promissory notes to such amount as the Court or officer may fix in lieu of executing such bond.
____________



कृपया प्रसार करें:

पिछला लेख
अगला लेख
-

अधिक पढ़ें गए

IPC 324 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 324 - Voluntarily causing hurt by dangerous weapons or means

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 324 खतरनाक आयुधों या साधनों द्वारा स्वेच्छया उपहति कारित करना -- उस दशा के सिवाय, जिसके लिए धारा 334 में उपबंध ...

पूरा पढ़ें

IPC 325 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 325 - Punishment for voluntarily causing grievous hurt

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 325 स्वेच्छया घोर उपहति कारित करने के लिए दण्ड -- उस दशा के सिवाय, जिसके लिए धारा 335 में उपबंध है, जो कोई स्वे...

पूरा पढ़ें

IPC 323 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 323 - Punishment for voluntarily causing hurt

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 323 स्वेच्छया उपहति कारित करने के लिए दण्ड --- उस दशा के सिवाय, जिसके लिए धारा 334 में उपबंध है, जो कोई स्वेच्छ...

पूरा पढ़ें

IPC 451 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 451

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 451 कारावास से दंडनीय अपराध को करने के लिए गृह-अतिचार -- जो कोई कारावास से दंडनीय कोई अपराध करने के लिए गॄह-अतिचा...

पूरा पढ़ें

IPC 342 in HIndi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 342 - Punishment for wrongful confinement

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 342 (Dhara 342) सदोष परिरोध के लिए दण्ड ---   जो कोई किसी व्यक्ति का सदोष परिरोध करेगा, वह दोनों में से किसी भांत...

पूरा पढ़ें