IPC 142 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 142 - Being member of unlawful assembly

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 142

विधिविरुद्ध जमाव का सदस्य होना-- जो कोई उन तथ्यों से परिचित होते हुए, जो किसी जमाव को विधिविरुद्ध जमाव बनाते हैं, उस जमाव में साशय सम्मिलित होता है या उसमें बना रहता है, वह विधिविरुद्ध जमाव का सदस्य है, यह कहा जाता है ।

Indian Penal Code Section 142

Being member of unlawful assembly.-- Whoever, being aware of facts which render any assembly an unlawful assembly, intentionally joins that assembly, or continues in it, is said to be a member of an
unlawful assembly.

Report Disclaimer Applies

कृपया प्रसार करें:

पिछला लेख
अगला लेख