IPC 504 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 504 - Intentional insult with intent to provoke breach of the peace

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 504

लोकशान्ति भंग कराने को प्रकोपित करने के आशय से साशय अपमान--- जो कोई किसी व्यक्ति को साशय अपमानित करेगा और तद् द्वारा उस व्यक्ति को इस आशय से, या यह सम्भाव्य जानते हुए, प्रकोपित करेगा कि ऐसे प्रकोपन से वह लोक शान्ति भंग या कोई अन्य अपराध कारित करेगा, वह दोनों में से किसी भांति के कारावास से, जिसकी अवधि दो वर्ष तक की हो सकेगी, या जुर्माने से, या दोनों से, दण्डित किया जाएगा ।

PUNISHMENT & CLASSIFICATION OF OFFENCE
लोकशान्ति भंग कराने को प्रकोपित करने के आशय से साशय अपमानदो वर्ष का कारावास या जुर्माना या दोनों असंज्ञेय या नॉन-काग्निज़बलजमानती
विचारणीय :किसी भी मजिस्ट्रेट द्वारा यह अपराध कंपाउंडबल है

IPC 504 - English

Intentional insult with intent to provoke breach of the peace.-- Whoever intentionally insults, and thereby gives provocation to any person, intending or knowing it to be likely that such provocation will cause him to break the public peace, or to commit any other offence, shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to two years, or with fine, or with both.

PUNISHMENT & CLASSIFICATION OF OFFENCE
Intentional insult with intent to provoke breach of the peace.Imprisonment for Two years or Fine or BothNon-CognizableBailable
Triable By: Any Magistrate Offence is Compoundable
Report Disclaimer Applies

कृपया प्रसार करें:

पिछला लेख
अगला लेख