IPC 424 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 424 - Dishonest or fraudulent removal or concealment of property

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 424

सम्पति का बेईमानी से या कपटपूर्वक अपसारण या छिपाया जाना-- जो कोई बेईमानी से या कपटपूर्वक अपनी या किसी अन्य व्यक्ति की किसी सम्पति को छिपायेगा या अपसारित करेगा, या उसके छिपाए जाने में या अपसारित किए जाने में बेईमानी से या कपटपूर्वक सहायता करेगा, या बेईमानी से किसी ऐसी मांग या दावे को, जिसका वह हकदार है, छोड़ देगा, वह दोनों में से किसी भांति के कारावास से, जिसकी अवधि दो वर्ष तक की हो सकेगी, या जुर्माने से, या दोनों से, दण्डित किया जाएगा।

PUNISHMENT & CLASSIFICATION OF OFFENCE
सम्पति का बेईमानी से या कपटपूर्वक अपसारण या छिपाया जानादो वर्ष तक का कारावास या जुर्माना या दोनों असंज्ञेय या नॉन-काग्निज़बलजमानती
विचारणीय : किसी भी मजिस्ट्रेट द्वारा यह अपराध प्रभावित व्यक्ति द्वारा कंपाउंडबल है

IPC 424 - English

Dishonest or fraudulent removal or concealment of property.-- Whoever dishonestly or fraudulently conceals or removes any property of himself or any other person, or dishonestly or fraudulently assists in the concealment or removal thereof, or dishonestly releases any demand or claim to which he is entitled, shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to two years, or with fine, or with both.

PUNISHMENT & CLASSIFICATION OF OFFENCE
Dishonest or fraudulent removal or concealment of property.Two Years Imprisonment or Fine or BothNon-CognizableBailable
Triable By: Any Magistrate Offence is Compoundable By The person affected thereby.
Report Disclaimer Applies

कृपया प्रसार करें:

पिछला लेख
अगला लेख