Section 452 IPC in Hindi News - धारा 452 आईपीसी के समाचार

"तुझे तेरे घर में घुस कर मारूंगा" यह वाक्य अधिक तर लोगो ने सुना होगा पर यह नहीं जानते होंगें कि हंसी मजाक में या फिल्मों में या गुस्से में कहे इस वाक्य का संबन्ध अपराध से है और यह अपराध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 452 से संबंधित है। एक तो घर में घुसना, दूसरा मारना या बाधित करना या किसी भी प्रकार का उपहति करना, यह कृत्य एक ऐसा अपराध है जो अगर सिद्ध हो जाए तो आरोपी को सात वर्षों के लिए कारावास करवा सकता है। यदि कोई भी किसी के घर या अचल सम्पति की सीमा में मार पिट या बलपूर्वक बाधित करता है तो शिकायत होने पर पुलिस इस अपराध का संज्ञान ले सकती है और आरोपी को गिरफ्तार कर सकती है। गैर-जमानती धारा होने के कारण आरोपी की जमानत कोर्ट से ही हो पाएगी।
शायद, जोश या गुस्से में तो कोई भी ऐसा बोल सकता है कि "तेरे घर में घुसकर मरेंगे" पर ऐसा अपराध करने की हिम्मत कम ही करते है पर फिर भी बहुत से समाचार सुनने को मिलते है और समाचारों को पढ़ कर अपराध की गम्भीरता को समझा जा सकता है। हम यहाँ कुछ IPC की धारा 452 से संबंधित समाचार प्रस्तुत कर रहें है।

बहन को छेड़खानी से बचाने की कोशिश की तो भाई को पीटा, केरोसिन छिड़क कर लगा दी आग

जनसत्ता ऑनलाइन
25 सितम्बर 2016, लखनऊ, उत्तर प्रदेश - जनसत्ता ऑनलाइन में छपे एक समाचार के अनुसार यूपी के शाहजहांपुर के सौपरी गांव में कुछ लोग एक घर के बहार शराब पीकर गाली गलोच कर रहे थे उस समय उस घर में भाई और बहन थे। भाई ने उन लोगों से उनके व्यवहार को लेकर आपत्ति जताई जिस पर वे लोग उस घर में घुस कर उस लड़के की बहन से बद्तमीज़ी करने लगे, शोर होने से वहां पड़ोसी आ गए तो वे लोग भाग गए। शुक्रवार सुबह जब लड़का अपने घर से निकल रहा था, उसी दौरान घात लगाकर इंतजार कर रहे आरोपियों ने उस पर (पीड़ित) मिट्टी का तेल छिड़क कर आग के हवाले कर दिया। प्रत्यक्षदर्शियों ने आग बुझाई और लड़के को अस्पताल में भर्ती कराया।
पुलिस ने इस मामले में धारा 307 (हत्या करने की कोशिश) और धारा 452 (घर में अनाधिकार प्रवेश करके चोट पहुंचाने और मारपीट करने) के तहत मामला दर्ज किया है।

बीएडी की छात्रा को मारपीट कर अधमरा किया, तीन हड्डी भी तोड़ी

लाइव हिन्दुस्तान, मेरठ
शास्त्रीनगर शेरगढ़ी की रहने वाली युवती बीडीएस कालेज से बीएड कर रही है। छात्रा के पड़ोस में देवेंद्र का मकान है। जिसने दीपक और उसकी पत्नी कोमल को किराए पर दे रखा है। छात्रा ने सोमवार को दीपक से घर के बाहर से साइकिल हटाने के लिए कहा था। जिसके बाद दीपक ने अपनी पत्नी कोमल, मकान मालिक देवेंद्र और उसकी पत्नी अंजलि और बेटी मानसी ने मिलकर छात्रा की जमकर पिटाई कर दी थी। दीपक ने तो कपड़े फाड़कर छेड़छाड़ और अश्लीलता भी की । छात्रा को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया । छात्रा के हाथ की तीन हड्डी भी टूट गई। जिसको उपचार के लिए मेडिकल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने इस मामले में मामूली धाराओं में 452, 325 धारा में मुकदमा कायम कर लिया था।

सिनेमाहॉल के कैबिन में मैनेजर पर कातिलाना हमला मारपीट मामले में दो लोगों को अदालत ने दोषी करार दिया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Oct 15, 2017,
सिनेमाहॉल के कैबिन में मैनेजर पर कातिलाना हमला मारपीट मामले में दो लोगों को अदालत ने दोषी करार दिया है। अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट महेंद्र प्रताप बेनीवाल ने मामले में आरोपी चंदन पुत्र मोहनलाल वाल्मीकि हनी पुत्र प्रहलाद वाल्मीकि निवासी वार्ड नंबर 24 कैबिन दो साल कैद और सात सौ रुपए जुर्माना राशि से दंडित किया है। लोक अभियोजन अधिकारी राजेश पारीक ने बताया कि पुलिस थाना रायसिंहनगर में 3 नवंबर 2016 को कोस्मों सिनेमा के मैनेजर राजेश हांडा ने इस संबंध में पुलिस थाना में मामला दर्ज करवाया था। घटना के दिन राजेश हांडा अपने कार्यालय के कैबिन में बैठा था। इस बीच आरोपी चंदन पुत्र मोहनलाल वाल्मीकि हनी पुत्र प्रहलाद वाल्मीकि निवासी जबरन उसके कार्यालय में घुस गए। लाठियों कुल्हाड़ी से उस पर हमला कर दिया। मारपीट कर चोंटे मारी। इससे पहले आरोपियों ने गेट कीपर अमनदीप के साथ भी मारपीट की। एसीजेएम ने मामले की सुनाई के बाद दोनों आरोपियों को दोषी करार देते हुए धारा 452 में दो-दो साल की कारावास पांच-पांच सौ रुपये जुर्माना, धारा 323/34 में छह-छह माह के कारावास दो-दो सौ रुपए जुर्माने से दंडित किया।
बलात्कार एक घृणित अपराध
विनम्र ' अनुरोध: भविष्य में जारी होने वाली नोटिफिकेशन को अपने ईमेल पर पाने के लिए अपने ईमेल को सब्सक्राइब करें।

Popular Posts