IPC 55 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 55

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 55

आजीवन कारावास के दण्डादेश का लघुकरण-- हर मामले में, जिसमें आजीवन [कारावास] का दण्डादेश दिया गया हो, अपराधी की सम्मति के बिना भी [समुचित सरकार] उस दण्ड को ऐसी अवधि के लिए, जो चौदह वर्ष से अधिक न हो, दोनों में से किसी भांति के कारावास में लघुकॄत कर सकेगी ।

Indian Penal Code Section 55

Commutation of sentence of imprisonment for life.-- In every case in which sentence of [imprisonment] for life shall have been passed, [the appropriate Government] may, without the consent of the offender, commute the punishment for imprisonment of either description for a term not exceeding fourteen years.
बलात्कार एक घृणित अपराध
विनम्र ' अनुरोध: भविष्य में जारी होने वाली नोटिफिकेशन को अपने ईमेल पर पाने के लिए अपने ईमेल को सब्सक्राइब करें।

Popular Posts