IPC 114 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 114

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 114

अपराध किए जाते समय दुष्प्रेरक की उपस्थिति-- जब कभी कोई व्यक्ति जो अनुपस्थित होने पर दुष्प्रेरक के नाते दण्डनीय होता, उस समय उपस्थित हो जब वह कार्य या अपराध किया जाए जिसके लिए वह दुष्प्रेरण के परिणामस्वरूप दण्डनीय होता, तब यह समझा जाएगा कि उसने ऐसा कार्य या अपराध किया है ।
PUNISHMENT & CLASSIFICATION OF OFFENCE
अपराध किए जाते समय दुष्प्रेरक की उपस्थिति|अपराध के अनुरसार अपराध के अनुरसार अपराध के अनुरसार
अपराध के अनुरसार
कम्पाउंडबल अपराध की सूचि में सूचीबद्ध नहीं है।

Indian Penal Code Section 114

Abettor present when offence is committed.-- Whenever any person who if absent would be liable to be punished as an abettor, is present when the act or offence for which he would be punishable in consequence of the abetment is committed, he shall be deemed to have committed such act or offence.
PUNISHMENT & CLASSIFICATION OF OFFENCE
Abetment of any offence, if abettor is present when offence is committed.Same As OffenceSame As OffenceSame As Offence
Same As OffenceOffence is NOT listed under Compoundable Offences
बलात्कार एक घृणित अपराध
विनम्र ' अनुरोध: भविष्य में जारी होने वाली नोटिफिकेशन को अपने ईमेल पर पाने के लिए अपने ईमेल को सब्सक्राइब करें।

Popular Posts