Indian Penal Code Section 416 - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 416 - Hindi

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 416

प्रतिरूपण द्वारा छल -- कोई व्यक्ति "प्रतिरूपण द्वारा छल करता है", यह तब कहा जाता है, जब वह यह अपदेश करके कि वह कोई अन्य व्यक्ति है, या एक व्यक्ति को किसी अन्य व्यक्ति के रूप में जानते हुए प्रतिस्थापित करके, या यह व्यपदिष्ट करके कि वह या कोई अन्य व्यक्ति, कोई ऐसा व्यक्ति है, जो वस्तुतः उससे या अन्य व्यक्ति से भिन्न है, छल करता है।

स्पष्टीकरण -- यह अपराध हो जाता है चाहे वह व्यक्ति जिसका प्रतिरूपण किया गया है, वास्तविक व्यक्ति हो या काल्पनिक।

दृष्टांत
(क) क उसी नाम का अमुक धनवान बैंकार है इस अपदेश द्वारा छल करता है । प्रतिरूपण द्वारा छल करता है।
(ख) ख, जिसकी मॄत्यु हो चुकी है, होने का अपदेश करने द्वारा छल करता है । प्रतिरूपण द्वारा छल करता है।

Indian Penal Code Section 416

Cheating by personation. -- A person is said to "cheat by personation" if he cheats by pretending to be some other person, or by knowingly substituting one person for or another, or representing that he or any other person is a person other than he or such other person really is.

Explanation. -- The offence is committed whether the individual personated is a real or imaginary person.

Illustrations
(a) A cheats, by pretending to be a certain rich banker of the same name. A cheats by personation.
(b) A cheats by pretending to be B, a person who is deceased. cheats by personation.


Get All The Latest Updates Delivered Straight Into Your Inbox For Free!

Powered by FeedBurner

Popular Posts