Indian Penal Code Section 294 A - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 294 क - Hindi

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 294क

लाटरी कार्यालय रखना-- जो कोई ऐसी कोई लाटरी, [जो न तो [राज्य लाटरी] हो और न तत्सम्बन्धित [राज्य ] सरकार द्वारा प्राधिकृत लाटरी हो, ] निकालने के प्रयोजन के लिए कोई कार्यालय या स्थान रखेगा, वह दोनों में से किसी भांति के कारावास से, जिसकी अवधि छह मास तक की हो सकेगी, या जुर्माने से या दोनों से, दण्डित किया जाएगा ;
तथा जो कोई ऐसी लाटरी में किसी टिकट, लाट, संख्याक या आकृति को निकालने से संबधित या लागू होने वाली किसी घटना या परिस्थिति पर किसी व्यक्ति के फायदे के लिए किसी राशि को देने की, या किसी माल के परिदान को, या किसी बात को करने की, या किसी बात से प्रविरत रहने की कोई प्रस्थापना प्रकाशित करेगा, वह जुर्माने से, जो एक हजार रुपए तक को हो सकेगा, दण्डित किया जाएगा।

Indian Penal Code Section 294A


Keeping lottery office.-- Whoever keeps any office or place for the purpose of drawing any lottery 2*[not being [a State lottery] or a lottery authorised by the [State] Government], shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to six months, or with fine, or with both.
And whoever publishes any proposal to pay any sum, or to deliver any goods, or to do or forbear doing anything for the benefit of any person, on any event or contingency relative or applicable to the drawing of any ticket, lot, number or figure in any such lottery shall be punished with fine which may extend to one thousand rupees.



Get All The Latest Updates Delivered Straight Into Your Inbox For Free!

Powered by FeedBurner

Popular Posts