IPC 294 in Hindi - भारतीय दण्ड संहिता की धारा 294

भारतीय दण्ड संहिता की धारा 294

अश्लील कार्य और गाने--जो कोई--
क.      किसी लोक स्थान में कोई अश्लील कार्य करेगा, अथवा
ख.     किसी लोक स्थान में या उसके समीप कोई अश्लील गाने, पवांडे या शब्द गाएगा, सुनाएगा या उच्चारित करेगा, जिससे दूसरों को क्षोभ होता हो, वह दोनों में से किसी भांति के कारावास से, जिसकी अवधि तीन मॉस तक की हो सकेगी, या जुर्माने से, या दोनों से, दण्डित किया जाएगा।
PUNISHMENT & CLASSIFICATION OF OFFENCE
अश्लील कार्य और गानेतीन माह का कारावास या जुर्माना या दोनों संज्ञेय या काग्निज़बलजमानती
विचारणीय : किसी भी मजिस्ट्रेट द्वारायह अपराध कंपाउंडबल अपराधों की सूचि में सूचीबद्ध नहीं है

Indian Penal Code Section 294

Obscene acts and songs.-- Whoever, to the annoyance of others,
(a) does any obscene act in any public place, or
(b) sings, recites or utters any obscene song, ballad or words, in or near any public place, shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to three months, or with fine, or with both.
PUNISHMENT & CLASSIFICATION OF OFFENCE
Obscene acts and songsImprisonment for Three Months or Fine or Both CognizableBailable
Triable By: Any Magistrate Offence is NOT listed under Compoundable Offences
यदि कोई, किसी सार्वजानिक स्थान पर कोई अश्लील हरकत करेगा, गाना गायेगा या कोई भी ऐसा कार्य करेगा जिसमे अश्लीलता हो तो वह इस धारा के तहत आरोपी बनाया जा सकता है। शिकायत होने पर पुलिस इसका संज्ञान लेकर मामला दर्ज कर सकती है। यह जमानती धारा है । दोष सिद्ध होने पर आरोपी को तीन माह का कारावास या जुर्माना या दोनों दंड के रूप में भुगतने पड़ सकते है।

आई.पी.सी. की धारा 294 का मामला जो सुर्खियों में रहा :
1. मुंबई, 12 दिसंबर 2015, पुलिस को एक पत्रकार ने सुचना दी कि पड़ोस के एक फ्लैट में संगीत तेज आवाज में बज रहा है और खिड़कियों से दिख रहा है कि महिलाएं कम कपड़ों में डांस कर रही हैं और लोग उन पर रुपये बरसा रहे हैं। शिकायत पर पुलिस ने फ्लैट पर छापेमारी की और पाया कि छह महिलाएं डांस कर रही थीं और तेरह लोग वहां शराब पी रहे थे। पुलिस ने यह मामला आईपीसी की धारा 294 के तहत दर्ज किया था। इस मामला में एक याचिका बॉम्बे हाई-कोर्ट में लगाई गई जिसमे याचिकाकर्ताओं के वकील ने दलील दी कि जिस फ्लैट में यह सब हो रहा था, वह सार्वजनिक स्थान नहीं था और कोर्ट ने इस दलील को स्वीकार किया और साथ ही कोर्ट ने कहा कि "निजी स्थान पर की गई अश्लील हरकतें आईपीसी की धारा 294 के प्रावधानों में नहीं आती।
ध्यान दें: यहाँ पर ऊपर दिया गया उदाहरण केवल भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं और किए गए अपराधों के तालमेल को समझने के लिए दिया गया है और इसी लिए उदाहरण को चर्चित समाचार के माध्यम से बताने की चेष्ठा की गई है। साक्ष्य के रूप में उन समाचारों के लिंक को उपर प्रस्तुत किया गया है जो उदाहरण के लिए प्रयोग किए गए है। अतः यह उदाहरण मन गढ़ंत नहीं है। NEWS
बलात्कार एक घृणित अपराध
विनम्र ' अनुरोध: भविष्य में जारी होने वाली नोटिफिकेशन को अपने ईमेल पर पाने के लिए अपने ईमेल को सब्सक्राइब करें।

Popular Posts